10 Lines On Ranchordas Pagi in Hindi रणछोरदास पागी कौन है

10 Lines On Ranchordas Pagi in Hindi – रणछोरदास पागी कौन है।

10 Lines On Ranchordas Pagi in Hindi
10 Lines On Ranchordas Pagi in Hindi
  • रणछोरदास  पागी भारत और पाकिस्तान की लड़ाई मैं इंडियन आर्मी को योगदान के लिए जाना जाता है ।
  • रणछोरदास पागी अपना  जीवन बकरी ,ऊठ जानवर पाल कर ही जीवन चलते थे ।
  • रणछोरदास पागी जनम साल 1901 को हुआ था गुजरात मैं आम परिवार मैं ।
  • जब साल 1965 को भारत पे हमला हुआ था तब सेना ने रणछोरदास पागी से मदद लिया था ।
  • रणछोरदास पागी सिर्फ 1965 की लड़ाई नहीं बल्कि और भी लड़ाई मैं सेना का साथ दिया था जैसे 1971 की लड़ाई मैं भी एहम भूमिका थी ।
  • रणछोरदास पागी के पास हुनर और जो कला थी वो सबके काम आयी ।
  • रण के हर जगह को अच्छे से जानते थे रणछोरदास पागी ।
  • उनकी खूबी ये थी वो पैरो की निशानी से बात देते थे सब कुछ ।
  • इसी खूबी से 1200 पाकिस्तानी को खोज निकला था जो भारत मैं छुपा हुआ था ।
  • उस समय सेना अध्ययक्ष ए के मानेकशा ने खूब तारीफ किया थे ।
  • रणछोरदास पागी को राष्ट्रपति अवार्ड से नवाज़ा गया है ।
  • साल 1971 की लड़ाई पर बनी है फिल्म जिसका नाम है भुज : द प्राइड ऑफ़ इंडिया
  • रणछोरदास पागी का रोले किया है संजय दत्त ने ।
  • 17 जनवरी 2013 को रणछोरदास पागी ने दुनिया को अलविदा कह दिया है ।
  • 113 साल की उम्र मैं दुनिया को छोड़ दिया ।

 

 

Leave a Comment